आधी और बारिश से सिद्धार्थ नगर बेहाल

हमेशा अपडेट रहने के लिए आप हमारे ऐप को डाउनलोड कीजिए..... यहां क्लिक कीजिए

सिद्धार्थनगर। आधी रात को लगभग 11:35 आधी-बारिश से जिले में कम से कम 70 पोल उखड़ गए और 170 गांवों की बिजली गुल हो गई। बारिश से क्रय केंद्रों के बाहर रखा करीब एक हजार क्विंटल से अधिक गेहूं भीग गया। कई स्थानों पर पेड़ और पोल गिरने से आवागमन भी बाधित हुआ। मुख्यालय समेत कुछ स्थानों पर शाम तक बिजली आपूर्ति बहाल कर दी गई। मौसम की मार से बिजली निगम को लाखों का नुकसान हुआ है। गौरतलब है कि पिछले एक पखवाड़े में तीसरी बार आंधी आई है।

आंधी से सदर तहसील के सिसवा बुजुर्ग गांव में बिजली के तीन पोल टूटकर गिर गए। इसके साथ ही छह से अधिक पेड़ गिर पड़े। गांव के मुख्य रास्ते पर बिजली के पोल गिर जाने के कारण लोगों को आने-जाने में परेशानी हुई। धेंसा स्थित गेहूं क्रय केंद्र पर बाहर रखा एक हजार क्विंटल से अधिक गेहूं भीग गया। गोदाम परिसर में भी पानी भर गया है। बर्डपुर क्षेत्र के ईसूपुर में गेहूं के गोदाम पर 300 से अधिक ट्रकों की लाइन लगी हुई है। यह सिलसिला पिछले 15 दिनों से चल रहा है। तिरपाल न होने के कारण लगभग 100 से अधिक ट्रकों में रखे गेहूं भी भीग गए। इटवा, डुमरियागंज व बांसी में भी आंधी का असर रहा। जिला विपणन अधिकारी एसके पांडेय ने बताया कि कुछ केंद्रों पर गेहूं भीगा है। इसे जल्द सूखा लिया जाएगा। अधिकांश क्रय केंद्रों पर गोदाम हैं।

शोहरतगढ़ के 100 गांव हुए प्रभावित
सिद्धार्थनगर डिवीजन के अधिशाषी अभियंता पीएन प्रसाद ने बताया कि नौगढ़ क्षेत्र के 50 गांवों में बिजली आपूर्ति बाधित हुई। शोहरतगढ़ कस्बे के अलावा कटया, गौहनिया, रेहरा, बूढ़ापार, संतोरा, संतोरी, चिल्हिया, कनवा, बेलवा, केसारा, कनुवाड़ी, परासपिड़ा, मुड़िला, मुड़िला बुजुर्ग, कंदवा बाजार सहित 100 से अधिक गांव में बिजली गुल रही। बांसी डिवीजन के अधिशाषी अभियंता संतोष कुमार त्रिपाठी ने बताया कि क्षेत्र में 40 पोल टूटने की जानकारी मिली है। 20 से अधिक गांवों की बिजली गुल है। डुमरियागंज एसडीओ रितेश कौशल ने बताया कि बिथरिया और खानपारा में करीब 15 घंटे बिजली गुल रही

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *