इस गांव को नहीं मिला एक भी शौचालय

0
50
DJL·F¦F½FÔ°F

सिद्धार्थनगर :

डुमरियागंज ब्लाक क्षेत्र के ग्राम पंचायत जिमड़ी का बड़हरा गांव मूलभूत सुविधाओं को तरस रहा है। मुख्य मार्ग के दोनों तरफ गंदगी फैली रहती है। तो नाली की गंदगी ग्रामीणों को खुद साफ करनी पड़ती है। दर्जनों गरीब आवास योजना का लाभ पाने से वंचित हैं, तो शुद्ध पेयजल की समस्या गंभीर बनी है। आश्चर्य यह है कि इस गांव में किसी को भी शौचालय की सुविधा प्रदान नहीं की गई है। जिसके कारण लोग खुले में शौच करने को मजबूर रहते हैं।

यहां महिला आरती हाथ से नाली साफ करती दिखाई दी। बगल में सोनारी देवी ने कहा कि जलनिकासी की व्यवस्था न होने से पानी जाम रहता है। चन्द्रावती देवी कहती है, कि गड्ढे का पानी बाल्टी में भरकर फेंकना पड़ता है। सोनमती देवी ने सड़क के दोनों तरफ गन्दगी के वजह को गांव में किसी पास शौचालय न होना बताया। बुजुर्ग श्यामलाल को पेंशन, आवास, शौचालय कुछ भी नहीं मिला है। 63 वर्षीय दयाराम सीमेंट के शेड में किसी तरह से जिदगी काट रहे हैं। बसलेश्वर व रमावती देवी की यही कहानी है, न तो आवास है, न ही शौचालय। 25 घरों वाले इसडीह की संख्या करीब 250 है। जो विकास के मामले में पूरी तरह से अछूता है।

ग्राम प्रधान अब्दुल अजीज ने कहा कि ग्राम पंचायत के दो अन्य डीह सोनबरसा, नौवागांव में पात्रों को शौचालय दिए गए हैं। बड़हरा में 20 शौचालय व 4 आवास के प्रस्ताव भेजे गए हैं।

बीडीओ सुशील कुमार अग्रहरी ने कहा कि जो भी समस्याएं हैं, उन्हें चुनाव के बाद प्राथमिकता के आधार पर दूर कराई जाएंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here