बांसी में गेंगटा गांव के ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री और जिलाधिकारी को दिया शिकायती पत्र

हमेशा अपडेट रहने के लिए आप हमारे ऐप को डाउनलोड कीजिए..... यहां क्लिक कीजिए

बांसी  विकास खंड खेसरहा अंतर्गत गेंगटा गांव के ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री सहित जिलाधिकारी को शिकायती पत्र देकर  गांव में स्थित ताल की नीलामी जो एकल मत्स्य जीवी सहकारी समिति द्वारा कराया गया है उसे निरस्त कर  नीलामी में भाग लेने की इच्छुक सभी मत्स्य जीवी सहकारी समितियों के समक्ष कराये जाने की मांग किया है l ग्रामीणों का मानना है कि एकल समिति से बोली कराये जाने से सरकारी राजस्व की भारी क्षति हुई है l



बीते ग्यारह अप्रैल को  तहसील प्रशासन ने विकास खंड खेसरहा के गेंगटा गांव में स्थिल ताल की नीलामी एकल समिति से कराया है जबकिनीलामी में बोली बोलने के लिए आयी कई समितियों को बोली में शामिल नहीं होने दिया गया l सिर्फ एक समिति के बोली बोलने से उसने अपने  मनमाने दर पर ताल की नीलामी ले लिया है l



आसिया खातून, श्रीराम, चिंगुद, रामदेव चौधरी,रामू, सूरज, प्रहलाद, पुरुषोत्तम, हरीश, अजय, रामसुमेर, श्यामधनी, पंकज कुमार सहित सौ से अधिक ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री ,उच्चाधिकारियों सहित जिलाधिकारी को शिकायती पत्र देकर आरोप लगाया है ताल की नीलामी एकल समिति से बोली कराकर उसी को दे दिए जाने से सरकारी राजस्व की भारी क्षति हुई है l ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से मांग किया किया है कि यदि नीलामी में बोली बोलने की इच्छुक जिले की सभी समितियों को बोली में भाग लेने की अनुमति दिया जाय तो बोली में कई गुना की बढ़ोत्तरी होगी तथा लाखो में सरकारी राजस्व का लाभ होगा l

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *