गोल्हौरा थाना क्षेत्र के ग्राम उसकी में पुरानी जमीनी रंजिश व रुपयों के लेन-देन को लेकर आपस में भिड़न्त

हमेशा अपडेट रहने के लिए आप हमारे ऐप को डाउनलोड कीजिए..... यहां क्लिक कीजिए

बांसी  गोल्हौरा थाना क्षेत्र के ग्राम उसकी में बुधवार को एक कुनबे के आधा दर्जन परिवार के सदस्य पुरानी जमीनी रंजिश व रुपयों के लेन-देन को लेकर आपस में भिड़ गए। बताते हैं कि इस भिड़ंत में जमकर लाठी डंडा व धारदार हथियार चला, जिसमें पांच लोग गम्भीर रूप से घायल, और कई लोग चोटिल हो गए। गांव के चौकीदार की सूचना पर पहुंची डॉयल 100 पुलिस ने 108 एम्बुलेंस से एक पक्ष को अस्पताल पहुंचवाया।
         जानकारी के अनुसार उक्त गांव में आधा दर्जन घरों में एक ही कुनबे के लोग निवास करते हैं। जिसमें खदेरू  हरिराम, गंगाराम, जमुना, चिन्नू व तौलू का परिवार शामिल है। उक्त खदेरू को छोड़कर अभी कुछ माह पूर्व ही अन्य को सरकारी आवास मिला था। जिसमें हरिराम ने जब अपना आवास निर्माण शुरू किया तो खदेरू ने थाने व तहसील में तहरीर देकर उसे अपनी जमीन बताते हुए रोकवा दिया। थाने पर कई बार दोनों पक्ष पहुंचे। अंततः पुलिस ने दोनों पक्षों को समाधान दिवस के मौके पर बुलाया। राजस्व व पुलिस टीम ने हरिराम को सही पाया। उसी बीच खदेरू ने हरिराम आदि को अपने एक अन्य मामले में आरोपी बना दिया। फिर भी हरिराम व अन्य लोगों का आवास बनकर तैयार हो गया। लेकिन सभी के बीच तनाव बना रहा। बताते हैं कि दिल्ली में रह रहे खदेरू के लड़के व हरिराम के भांजे में रुपयों के लेन-देन को लेकर कल विबाद हो गया था। जिसे खदेरू की पत्नी ने फोन पर सुना, और रात से गाली गलौज शुरू कर दिया। बुधवार सुबह इसी बात को लेकर सभी आपस में मारपीट करने लगे। जिसमें खदेरू व उसकी पुत्री रेनू समेत हरिराम, जमुना व उषा देवी गम्भीर रूप से घायल हो गए। घटना में खदेरू की पत्नी सीता, पतोहू उर्मिला व वीना के अलावा मन्ती, हरिराम की पत्नी उर्मिला आदि समेत कई लोग चोटिल भी हुए हैं। घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने एम्बुलेंस से खदेरू व रेनू को इलाज हेतु प्रा0 स्वा केंद्र बांसी भेजवाया। थाने पर पहुंचे अन्य तीन गम्भीर रूप से घायलों को भी पुलिस ने अपनी अभिरक्षा में इलाज हेतु प्रा0स्वा केंद्र बांसी पहुंचवाया है । उक्त बावत थानाध्यक्ष मनोज कुमार सिंह ने कहा कि मामले जांच किया जा रहा है जो भी दोषी है उनके बिरुद्ध कार्रवाई किया जायेगा l

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *