11 हजार की लाइन ठीक कर रहा था लाइन मैन, तभी आ गई लाइट, फिर…

0
110

सिद्धार्थनगर जिले में बिजली विभाग की लापरवाही से एक प्राइवेट लाइनमैन की करंट से मौत हो गई. बिजली विभाग की लापरवाही का आलम ये था कि लाइनमैन की मौत के घंटो बाद भी शव पोल से चिपका रहा.

सिद्धार्थनगर:  सिद्धार्थनगर जिले में बिजली विभाग की लापरवाही से एक प्राइवेट लाइनमैन की करंट से मौत हो गई. बिजली विभाग की लापरवाही का आलम ये था कि लाइनमैन की मौत के घंटो बाद भी शव पोल से चिपका रहा. मौके पर पहुंचे अपर जिलाधिकारी ने बिजली विभाग के विरुद्ध कार्रवाई करने और मृतक के घरवालों को मुआवजा देने की बात कही है.

सोमवार को कमलेश यादव नामक प्राइवेट लाइनमैन की बिजली के तार से चिपक कर उस वक्त मौत हो गई जब वह 11 हज़ार की लाइन पर काम कर रहा था. घटना सिद्धार्थनगर के जोगिया ब्लॉक के नगरा गांव की है. कमलेश यादव इसी गांव का निवासी था और बिजली विभाग के लोगों के कहने पर वह समय-समय पर लोकल फाल्ट ठीक कर देता था.सोमवार को भी वह बिजली विभाग के लाइनमैन के कहने पर वह 11 हज़ार के बिजली के पोल पर चढ़ गया तभी लाइट आ गई. जिसके बाद वह वहीं पर चिपक कर झुलस गया गया और देखते-देखते उसकी मौत हो गई.

स्थानीय लोगों ने इस हादसे की सूचना तत्काल पुलिस को दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया. अपर जिलाधिकारी सीताराम गुप्ता ने इस मामले में बिजली विभाग की लापरवाही बताते हुए विभाग के खिलाफ कार्रवाई की बात कही है. मृतक के परिजनों को आर्थिक सहायता देने का आश्वासन दिया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here