6 माह से सरकार ने नहीं भेजा स्कूलों में मिड डे मिल का पैसा, बंद हुआ बच्चों का भोजन

0
54

सिद्धार्थनगर : परिषदीय स्कूलों में बच्चों की सेहत सुधारने के लिए सरकार की तरफ से शुरू की गई मिड डे मिल योजना के लिए पिछले छह महीने से पैसा नहीं भेजा गया। आलय यह है कि अब बच्चों को मध्यान्ह भोजन करने के लिए खुद घर जाना पड़ता है। शिक्षकों में अब इस योजना के जल्द बंद होने की भी सुगबुगाहट शुरू हो गई है।

जी हां सिद्दार्थननगर के बर्डपुर ब्लाक अंतर्गत स्थित काशीपुर विद्यालय की बात करें तो यहां के प्रधानाध्यापक ने स्कूल में बनने वाला मिड डे मिल को बंद करा दिया। पूछने पर उन्होने बताया कि पिछले छह महीने से सरकार की तरफ से कन्वर्जन कॉस्ट ही नहीं भेजी गई है। ऐसी दशा में हम इस योजना को अपने हाल पर भला कब तक चला सकते हैं।

काशीपुर विद्यालय में एक ही कैम्पस में प्राथमिक व जूनियर विद्यालय के छात्र व छात्राये पढ़ते हैं। दोनों ही विद्यालयों में पंजीकृत छात्रों की संख्या 378 है। प्रधानाध्यापक की तरफ से भोजन बंद किये जाने के निर्देश के बाद अब इन सब बच्चों में मायूसी देखी जा रही है। अब बच्चों को इंटरवेल के सीमित समय में घर जान पड़ रहा है और फिर भोजन कर वापस लौटना पड़ता है। मामले पर बातचीत में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने कहा कि ये सही बात है कि पिछले कुछ महीनों से इस योजना का पैसा नहीं आ सका है। लेकिन एक-दो दिन में पैसा आ जायेगा। उन्होने कहा कि मध्यान्ह भोजन में कहीं कोई दिक्कत नही आने दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here